स्टेशन डायरेक्ट से मिलकर उर्दू का साइन बोर्ड लगाने के सम्बन्ध में ज्ञापन सौंपा

0
8
  • स्टेशन डायरेक्ट से मिलकर उर्दू का साइन बोर्ड लगाने के सम्बन्ध में ज्ञापन सौंपा

जावेद खान (वाराणसी):सामाजिक  संस्था सुल्तान क्लब के अध्यक्ष डॉ एहतेशामुल हक के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ,कई सामाजिक संगठनों के पदाधिकारियों के साथ,वाराणसी मंडल के रेल प्रबन्धक (डी आर एम)के नाम एक ज्ञापन स्टेशन डायरेक्टर श्री आनन्द मोहन से मिलकर,वाराणसी जंक्शन के मुख्य इमारत पर उर्दू भाषा में लगे साइन बोर्ड को पुनः स्थापित करने के सम्बन्ध में मांगपत्र सौंपा।
प्रतिनिधिमण्डल ने कहा कि पूर्व में,वाराणसी जंक्शन रेलवे स्टेशन(कैंट)के मुख्य भवन के बाहरी हिस्से में लगे साइन बोर्ड हिन्दी और अँग्रेज़ी के साथ-साथ भवन पर लगी विशाल घड़ी के ठीक नीचे उर्दू भाषा में भी लिखा हुआ साइन बोर्ड होता था जिससे भाषा के त्रिवेणी संगम का एक सुन्दर दृश्य प्रतीत होता था।जबकि रेलवे विभाग नें समस्त स्टेशनों पर हिन्दी व अँग्रेज़ी के साथ साथ उर्दू भाषा में भी स्टेशन का नाम,साइन बोर्ड पर अंकित करने की परम्परा रखी है जिससे आम यात्रियों को सुविधा होती है।
परन्तु कुछ माह पहले भवन का रंग-पेंट कराते समय तीनों बोर्ड उतार दिए गए। रंग-पेंट हो जाने के पश्चात हिंदी व अंग्रेजी के साइन बोर्ड तो पुनः स्थापित किये गए लेकिन भूलवश उर्दू भाषा का साइन बोर्ड अभी तक न लग सका,जिससे उर्दू भाषियों के अन्दर मायूसी छा गई है।
इसलिए यह माँग है कि वाराणसी जंक्शन की इमारत के मुख्य द्वार पर प्रदेश की दूसरी राज भाषा उर्दू के साइन बोर्ड को भी पुनः स्थापित करें।डायरेक्टर साहब ने इत्मीनान दिलाया कि जल्द ही इसपर कार्यवाई की जाएगी।
प्रतिनिधि मंडल में मुख्य रूप से मुहम्मद ज़फ़र अंसारी, महामंत्री-उर्दू बीटीसी टीचर्स एसोसिएशन,इशरत उस्मानी, सचिव-जमीअत उलेमा ज़िला बनारस,ज़ुल्फ़िक़ार अली, अध्यक्ष-आज़ाद हिन्द रिलीफ़ सोसाइटी ,शाहिद अंसारी, संस्थापक-मरियम फाउंडेशन,शकील अहमद अंसारी,महबूब आलम,मुस्लिम जावेद अख्तर,अब्दुर्रहमान इत्यादि थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here