लेबर एक्ट के अंतर्गत लाए गए अध्यादेश के विरोध में विरोध दिवस मना

0
13

शशिकांत ओझा ( पलामू / झारखंड )

लेबर एक्ट के अंतर्गत लाए गए अध्यादेश के विरोध में विरोध दिवस मना

19 मई
मेदनीनगर के बारालोटा पांकी रोड स्थित कामरेड चंद्रशेखर तिवारी के आवास सहायता शाखा कार्यालय में केंद्र सरकार की जन विरोधी एवं मजदूर विरोधी कदम एवं उनके द्वारा बनाए जा रहे कानून के विरोध में विरोध दिवस मनाया गया विरोध दिवस में आजादी के समय देश के अंदर आजादी के समय 1948 में बने लेबर एक्ट को समाप्त करने एवं काम का घंटा 8 से बढ़ाकर 12 घंटा करने का अध्यादेश सीधे रूप से देश के लिए काला कानून है। विरोध दिवस के अवसर पर इस काला कानून को वापस लेने का हम मांग करते हैं साथ ही करोड़ों प्रवासी मजदूर देश के विभिन्न बड़े शहरों में अपना रोजी-रोटी करते थे लॉक डाउन के वजह से उनका काम बंद हो गया और वह भुखमरी के शिकार होकर अपने घर वापस आना चाहे परंतु केंद्र सरकार ने उन्हें कोई सहायता नहीं किया जिसके कारण विवश हो मजदूरों को पैदल भूखे प्यासे और ट्रक और ट्रैक्टर पर जानवरों की तरह ठुस कर आने पर विवश है झारखंड ,उत्तर प्रदेश और बिहार के लाखों मजदूर तमतमाती धूप में बाल बच्चों एवं वृद्धों को लेकर चलने पर विवश है जिसके कारण सैकड़ों मजदूर काल के गाल में जा रहे हैं जो बहुत ही दुखद है। इस वैश्विक महामारी में देश के प्रधानमंत्री मोदी जी को कारपोरेट सेवा करने का जरूरत महसूस हुआ और इसी जरूरत पर सरकारी कोयला खान एवं हवाई अड्डा कारपोरेट को बेचने के लिए फैसला कर दिया।अगर मोदी जी 4 साल और रह गए तो पूरे देश के सरकारी तंत्र को अमेरिकन कंपनियां एवं अपने दोस्त ट्रंप के हाथों बेच देंगे। हम सभी इस राष्ट्रव्यापी विरोध दिवस के अवसर पर केंद्र सरकार से मांग करते हैं कि–
1, काम का घंटा 8:00 से 12 करने का काला कानून वापस लो।
1, सभी प्रवासी मजदूरों को सकुशल उनके गृह जिला में पहुंचाने का व्यवस्था करो और प्रत्येक मजदूरों को दस – 10,000 हजार उनके खाता में pm care fund से तत्काल डाले।
3, सभी मजदूरों गरीब किसानों दैनिक कामगारों सैलून, टेम्पु ड्राइवरों कर्मचारियों आदि मजदूरों के खाते में₹10000 डालो।
4, सरकारी कोयला खदानों एवं हवाई अड्डा को कारपोरेट के हाथों बेचना बंद करो।
5, मनरेगा मजदूरों को काम दो और ₹300 मजदूरी प्रतिदिन का निर्धारण करो काम नहीं तो काम के बदले दाम दो।
5, इस कोरोना महामारी में एपीएल — बीपीएल का भेदभाव खत्म कर सभी जरूरतमंद लोगों को मुफ्त राशन दो।
विरोध दिवस के अवसर पर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य कार्यकारिणी सदस्य सूर्यपत सिंह, जिला सचिव रुचिर कुमार तिवारी, राज्य परिषद के सदस्य जितेंद्र कुमार सिंह नगर सचिव सुरेश ठाकुर, नौजवान संघ के उपाध्यक्ष चंद्रशेखर तिवारी छात्र संघ के अध्यक्ष मृत्युंजय तिवारी, बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ के सत्येंद्र कुमार शर्मा ,रंजीत पांडे, आदि लोग थे जिन्होंने अपना अपना विचार व्यक्त किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here