लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूर सार्वजनिक परिवहन बंद होने की वजह से सड़क हादसे का हो रहे शिकार: दर्जनभर से ज्यादा मजदूरों की मौत

0
0

नई दिल्ली: 

कोरोनावायरस पर काबू पाने के लिए देशभर में लगाए गए लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूर अपने घरों को लौटने के लिए मजबूर हैं. सार्वजनिक परिवहन बंद होने की वजह से मजदूर पैदल ही अपने घरों की ओर जाने के लिए मजबूर हैं. ऐसे में मजदूर अपने घर जाते हुए रास्ते में हादसों का भी शिकार हो रहे हैं. ताजा खबर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश से आ रही है, जहां दर्जनभर से ज्यादा मजदूरों की मौत सड़क हादसे में हो गई. उत्तर प्रदेश में रोडवेज की एक बस पैदल बिहार जा रहे 6 मजदूरों को कुचल दिया. वहीं, मध्य प्रदेश के गुना में एक बस और ट्रक में भिड़त से आठ मजूदरों की मौत हो गई.

उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फ़रनगर (Muzaffarnagar) में पैदल जा रहे 6 प्रवासी मजदूरों को यूपी रोडवेज की बस ने कुचल दिया है. इस हादसे में दो लोग घायल बताए जा रहे हैं. कहा जा रहा है कि ये प्रवासी मजदूर पंजाब से अपने घर बिहार के गोपालगंज लौट रहे थे. यह हादसा बुधवार रात 11 बजे का है. पुलिस ने बताया कि बस खाली थी और उसका ड्राइवर फरार है. यह हादसा ऐसे समय में हुआ है जब बुधवार को उत्तर प्रदेश सरकार ने आधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया था कि “किसी भी कीमत” पर कोई प्रवासी मजदूर पैदल नहीं जाए. हाल ही में पैदल जा रहे मजदूरों की दुर्घटना के कई मामले सामने आए हैं.

वहीं, मध्य प्रदेश के गुना में अपने घर जा रहे 8 प्रवासी मजदूर सड़क हादसे का शिकार हो गए और 54 लोग घायल हैं. ये मजदूर महाराष्ट्र से उत्तर प्रदेश जा रहे थे. तभी हाइवे एक ट्रक और बस में भिड़त हो गई. हादसे में 8 मजदूरों की जान चली गई. इस हादसे में बस में सवार 40 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए. हादसे के बाद मौके पर पुलिस और प्रशासन की टीम पहुंच गई है. राहत एवं बचाव कार्य जारी है. घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज किया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here