बाहर जाने वाले विद्यार्थियों को अब पलामू में ही मिलेगी बेहतर शिक्षा, डेडिकेटेड एकेडमी लाइव क्लास की शुरुवात 24 से

0
22
  • बाहर जाने वाले विद्यार्थियों को अब पलामू में ही मिलेगी बेहतर शिक्षा, डेडिकेटेड एकेडमी लाइव क्लास की शुरुवात 24 से
मेदिनीनगर। पलामू ज़िले के मेदिनीनगर मुख्यालय के सुदना मुहल्ला में स्थित डेडिकेटेड एकेडमी जो लंबे समय से अग्रणी शिक्षा के मशहूर है। इस लॉक डाउन के दौर में विद्यार्थियों के लिए निःशुल्क ऑनलाइन क्लास की व्यवस्था 24 से शुरु की जा रही है । डेडिकेटेड एकेडमी के संचालक व गणित व विज्ञान के चर्चित विशेषज्ञ प्राध्यापक विनय कुमार मेहता के नेतृत्व में लॉक डाउन में बैठे हुए विद्यार्थियों के लिए डेडिकेटेड एकेडमी लाइव  क्लास के माध्यम से की गयी है।
इंजीनियर विनय  कुमार मेहता नेे कई दिनों के अथक परिश्रम से पलामू के विद्यार्थियों व देश  भर के वैसे विद्यार्थी जो ऑनलाइन क्लास द्वारा बेहतर तैयारी करने की रुचि रख रहे हैं उनके  लिए एक  नायाब तरीका ढूंढा है। अब कोई भी विद्यार्थी गण के ऊपर आर्थिक बोझ को काम करते हुए लाइव क्लास की सुविधा शुरू कराई जा रही है। इस संबंध में डेडिकेटेड एकेडमी के इंजीनियर विनय कुमार मेहता ने बताया कि जो विद्यार्थी दशवीं की परीक्षा दे चुके हैं और 11वीं परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं वे सभी डेडिकेटेड एकेडमी के पोर्टल पर ऑनलाइन जॉइन कर सकते हैं। उन्हें विज्ञान व गणित की विशेष बारीकियों की जानकारी हासिल होगी। उन्होंने बताया कि लाइव क्लास की शुरुआत 24 से की जा रही है। इछुक विद्यार्थी व्हाट्सएप नंबर 8294999090 पर कॉल कर अपने बारे में संक्षिप्त विवरण देंगे। अपना नाम व स्कूल का नाम बताएंगे । इसके बाद उनके पास एक लिंक जाएगा। जिसके द्वारा वे आसानी से जॉइन कर सकते हैं।
विनय मेहता ने बताया कि उनका मकसद है कि वैसे सभी विद्यार्थी जो बाहर जाने की तैयारी में हैं, उन्हें यहाँ पर ही एक बेहतर पढ़ाई की सुविधा उपलब्ध कराना। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन का दौर कब तक चलेगा यह बता पाना हर किसी के लिए  मुश्किल है।  लेकिन यह तय है कि लोग लॉक डाउन के दौरान तैयारियों से दूर हो जाएंगे। उन्हें बाद में विषयवार  मेकअप करना बहुत ही मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि अब लाइव क्लास की बदौलत अपनी तैयारियों को पूर्ण करनी होगी।  उन्होंने बताया कि यहाँ के विद्यार्थियों के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं का विषयवार क्लास बेहतर तरीके से हो सके यह उनकी अगली रणनीति का हिस्सा है।  उन्होंने कहा कि अब तक  इस डेडिकेटेड एकेडमी ऑनलाइन क्लास से दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और पुणे से सैकड़ों छात्र-छात्राएं जुड़ चुके हैं। आज घर पर बैठकर पढ़ाई पढ़ने से ज्यादा दूसरा और कोई कारगर पढ़ाई नहीं है।  इंजीनियर विनय कुमार मेहता ने बताया कि वे यहां की भूमि की उपज हैं। उनका एक ही सपना है कि यहां के छात्र व छात्राओं को यहाँ पर ही वैसी सारी सुविधाएं उपलब्ध कराना जो वे बाहर  जाकर प्राप्त करते हैं। जो विद्यार्थी मेधावी हैं, कुछ कर गुजरने की तम्मना है उनके लिए वे 24 घंटे उपलब्ध रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here